Interview

जनता की सेवा करना सौभाग्य है : भोलानाथ सरोज

कोरोना महामारी संक्रमण से पूरा देश निपटने में लगा हुआ है और इस कड़ी में कहीं न कहीं जनप्रतिनिधियों की बेहद अहम् भूमिका रही है, उत्तर-प्रदेश के मछलीशहर लोकसभा क्षेत्र से सांसद भोलानाथ सरोज, जिन्होंने कोरोना महामारी के दौरान हजारों क्षेत्रवासियों के पास लगातार दिन-रात मदद पहुंचा रहे हैं, सोशल मीडिया से लेकर जमीनी स्तर, हर जगह नजर आ रहे हैं, इसी विषय पर सांसद महोदय से सरकारी हेल्पलाइन के फाउंडर वैभव मिश्रा ने की खास बातचीत-

प्रश्न- कोरोना महामारी संक्रमण में अपने संसदीय क्षेत्र की जनता को किन माध्यमों से जागरूक कर रहे हैं ?

उत्तर- कोरोना महामारी संक्रमण में अपने संसदीय क्षेत्र की जनता को मोबाइल फ़ोन से बातचीत कर के तथा सोशल मीडिया के द्वारा, ग्राम प्रधानों से संपर्क करके तथा बीजेपी के मंडल अध्यक्षों तथा बूथ अध्यक्षों/बीजेपी कार्यकर्ताओं के माध्यम से जनता को जागरूक किया जा रहा है |

प्रश्न- संसदीय क्षेत्र की जनता के लिए राशन और भोजन की जरूरतों को कैसे पूरा कर रहे हैं ?

उत्तर- अपने संसदीय क्षेत्र की जनता के लिए मास्क, सेनेटाईजर, राशन और भोजन के पैकेट तैयार करा कर के गरीब और जरुरत मंदों को वितरित किया जा रहा है |

प्रश्न- जिन विधानसभाओं में आपकी पार्टी के विधायक नही हैं वहां किस प्रकार तालमेल बिठा रहे हैं ?

उत्तर- मेरे लोकसभा क्षेत्र में विधानसभा में हमारी पार्टी के जहाँ विधायक नही है उस विधानसभा में अपने पार्टी के मंडल अध्यक्षों तथा कार्यकर्ताओं के माध्यम से जरुरी चीजें जैसे राशन, मास्क, सेनेटाईजर इत्यादि वितरित किया जा रहा है |

प्रश्न- कोरोना में मदद के लिए क्या आपके द्वारा भी कोई विशेष हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है ?

उत्तर- कोरोना में मदद के लिए विशेष हेल्पलाइन नंबर 8454953130 जारी किया है |

प्रश्न- कोरोना में मदद के लिए क्या आपके द्वारा भी कोई विशेष हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है ?

उत्तर- माननीय प्रधानमंत्री जी तथा माननीय मुख्यमंत्री जी के द्वारा जारी दिशा-निर्देशों को ध्यान में रखते हुए अन्य राज्यों में फंसे हुए लोगों को लाने के लिए प्रयास किये जा रहे हैं, तथा दूसरे राज्यों में फंसे हुए लोगों के परिजनों से संपर्क कर लोगों को वापस लाने के लिए प्रशासनिक अधिकारियों से विचार-विमर्श किया जा रहा है कि किस प्रकार अपने क्षेत्र के लोगों को वापस लाया जाये |

प्रश्न- शराब की दुकाने खुलने से जो अव्यवस्था फैली और कोरोना के फैलने का खतरा बढ़ा उस पर आप क्या कहना चाहेंगे ?

उत्तर- शराब की दुकाने खुलने का फैसला सरकार का था

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *