अमेरिका में बसे भारतीय डॉक्टरों द्वारा इस विषम परिस्थिति में मानवता का मिसाल पेश किया जा रहा है : अशोक श्रीवास्तव
corona Updates COVID Care

अमेरिका में बसे भारतीय डॉक्टरों द्वारा इस विषम परिस्थिति में मानवता का मिसाल पेश किया जा रहा है : अशोक श्रीवास्तव

अमेरिका में बसे भारतीय डॉक्टरों द्वारा #कोरोना को लेकर निशुल्क कंसल्टेशन की सेवा जारी है। आज भी करीब 60 लोगों ने ज़ूम पर डॉक्टरों से सलाह ली। यहां हिंदी,अंग्रेज़ी,पंजाबी और गुजराती में डॉक्टरों द्वारा सलाह दी जा रही है। ये सेवा कार्यक्रम NRI Fedration और CMPPR द्वारा चलाया जा रहा है।


यदि आप भी #कोरोना को लेकर निशुल्क डॉक्टरी सलाह चाहते हैं तो अपना व्हाट्सएप नम्बर 8826825888 पर भेज दें। आप इस सेवा के माध्य्म से किसी भी ज़रूरतमंद- गरीब या दूरदराज के इलाके में बैठे ऐसे व्यक्ति, जो डॉक्टर से दूर हो की मदद करना चाहें तो हमें खुशी होगी। अगला सेशन कल शाम 5.30 बजे होगा। हम ज़्यादा से ज़्यादा लोगों को जोड़ने की कोशिश कर रहे हैं आपके परिचित, मित्र, जानकर इस सेवा का लाभ उठाना चाहें तो स्वागत है।


वरिष्ठ पत्रकार श्री अशोक श्रीवास्तव ने जरूरी सूचना के साथ इस योजना के बारे में बताया कि ये योजना अभी लगभग अगले 1 हफ्ते तक चलेगी और योजना के बारे में लोगों तक जानकारी पहुंचाने हेतु में के लिये रोज शाम को 5:30 से 7:00 बजे ज़ूम ऐप के माध्यम से मीटिंग होती है। कोरोना के कहर के चलते सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों तक पहुंच तो पा रहें हैं और दूर दूर से लोग जुड़ना भी चाहते हैं। चूंकि एक तरफ देखा जाए तो ग्रामीण इलाकों में शायद इसको पहुंचाना मुश्किल है लेकिन इसका दूसरा पहलू ये रखा है कि बहुत जल्द जब थोड़ा सा कोरोना का कहर कम हो जायेगा और लॉक डाउन की सख्ती कम हो जाएगी तब हमारे भारत के डॉक्टर जो कि अमेरिका में हैं वह कोरोना के साथ साथ बाकी बीमारियों पर भी हफ्ते में एक बार लोगों को सुझाव देंगे और लोगों को कंसल्ट करेंगे। डॉक्टर उनको बताएंगे कि बचाव हेतु सभी को क्या और कैसे करना है। हम कोशिश करेंगें कि हमारे साथ अलग अलग इकलों के वालंटियर्स भी जुड़ें। जिसके पास लैपटॉप है जो लोगों को जोड़ सकतें है और साथ ही ग्रामीण इलाकों में लोगों को लैपटॉप के माध्यम से जोड़ सके जिससे लोग अपनी समस्या बता सकें और डॉक्टर उन्हें उनकी समस्या का समाधान बता सकें। श्री श्रीवास्तव जी ने नेक्स्ट स्टेप के लिए बताया कि जल्द ही इस योजना में कैंसर स्पेशलिस्ट, महिलाओं और शिशुओं की देखभाल हेतु सभी तरह के स्पेशलिस्ट डॉक्टर्स को भी जोड़ा जाएगा।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *