Trending

कोरोना महामारी की मार से निकलने में भारत के ये हैं सबसे सफल स्मॉल बिज़नेस आइडियाज

पिछले 2 वर्षों से भारत देश ही नहीं बल्कि पूरा विश्व आर्थिक समस्या से जूझ रहा है जिसका सबसे प्रमुख कारण कोरोना महामारी रहा है, न जाने कितने लाखों रोजगारों को बेरोजगार किया तो वहीँ कई लाख व्यापारों पर भी ताला पड़ गया है, लेकिन वर्ष 2022 कहीं न कहीं एक उम्मीद बनकर वापस लोगों के जीवन को रौशनी देने का काम कर रहा है, धीरे-धीरे बाज़ार भी अब बेहतर होने लगा है, ऐसे में बहुत से ऐसे नौजवान हैं जो नौकरी करने की बजाय खुद का कोई छोटा काम धंधा शुरू करने में ज्यादा रूचि दिखा रहे हैं, हम आपके लिए ऐसे ही कुछ बिज़नस आईडिया लेकर आये हैं जो वास्तव में आपके लिए कम निवेश में कुछ नया शुरू करने में मददगार साबित होंगे.   

1. ब्रेकफास्ट ज्वाइंट

जीवन की तीन आधारभूत  आवश्यकताओं में से एक खानपान है , यदि इसे ही व्यवसाय का रूप देकर कुछ शुरू किया जाये तो ये एक बेहतर विकल्प है। इसलिए, छोटे पैमाने पर बिज़नेस शुरू करने के लिए ब्रेकफास्ट ज्वाइंट एक अच्छे व्यवसाय का आप्शन बन सकता है।

इस बिज़नेस में जब तक अच्छा भोजन परोसा जाएगा तब तक आपके पास ग्राहकों की कमी कभी नहीं होगी, बेशक, एक स्टार्ट-अप बिज़नेस के लिए आपके पास बहुँत से खाने के विकल्प या बड़ी मेन्यू-लिस्ट होने की आवश्यकता नहीं है। शुरुआत केवल खाने के कुछ विकल्पों के साथ की जा सकती है, जैसे कि एक पारंपरिक नाश्ता जिसके साथ स्नैक्स भी रखे जा सकते है।

2. जूस पॉइंट

जैसे-जैसे लोग स्वास्थ्य के प्रति जागरुक हो रहे हैं, वैसे-वैसे सॉफ्ट ड्रिंक्स के विकल्प के रूप में ताज़ा फ्रूट जूस एवं डेटोक्स जूस भी काफी लोकप्रिय हो रहा है जो कि एक लोकप्रिय स्वस्थ कोल्ड ड्रिंक के तौर पर बेहतर विकल्प बनकर उभरा है,  यही कारण है कि जूस पॉइंट जैसे व्यवसायों ने भारत में सफ़ल स्मॉल बिज़नेस के रूप में में जगह बनाई है।

3. सिलाई / कढ़ाई

ये एक और प्रमुख बिज़नेस है जो जीवन की मूलभूत ज़रुरतो से संबंधित है क्योंकि कपड़े सभी की आवश्यकता हैं। सिलाई और कढ़ाई का व्यवसाय एक स्टार्ट-अप बिज़नेस के रूप में दशकों से चलता आ रहा है। आमतौर पर यह बिज़नेस घरों में ही खोल लिया जाता है, और ये लोग बुटीक की ओर से ऑर्डर प्राप्त करते हैं और पूरा करते हैं। क्योंकि ये एक आज़माया हुआ व्यवसाय है, इसलिए इसे बड़े स्तर पर भी करने में ज़्यादा जोखिम नहीं है। विशेष रूप से बड़े शहरों में, जहां सिलाई –कढ़ाई की बहुत मांग है।

4. ऑनलाइन व्यवसाय

वर्तमान में इंटरनेट से जुड़ना बहुत ज़्यादा ज़रूरी हो गया है, इसलिए ज़्यादातर व्यवसाय ऑनलाइन भी मौजूद हैं।यह साबित हो चुका है कि, ऑनलाइन उपस्थिति वाले स्मॉल बिज़नेस उन व्यवसाय से बेहतर हैं जिनकी ऑनलाइन उपस्थिति नहीं है। तो अब इस तरह के छोटे बिज़नस भी शुरू हो रहे हैं जो इन ऑनलाइन मौजूद व्यवसायों को अपनी सेवाएँ दे रहे हैं। यही कारण है कि

सोशल मीडिया विशेषज्ञ, ब्लॉगर्स, वेबसाइट डिज़ाइनर और डेवलेपर की डिमांड इन दिनों ज़्यादा है। ऐसे व्यवसायों को केवल बुनियादी कंप्यूटर प्रणाली, सॉफ्टवेयर और हाई स्पीड इंटरनेट की ज़रुरत होती है। गोस्ट राइटिंग, फ्री-लांसिंग और ऑनलाइन ट्रांसलेशन सर्विस जैसे व्यवसायों को सफलतापूर्वक ऑनलाइन चलाया जा सकता है।

5. ब्लॉगिंग

अगर आपको घर बैठे पैसे कमाने के लिए इंटरनेट पर आधारित छोटा बिज़नेस करना है तो आप ब्लॉगिंग, वी-लॉगिंग के ज़रिए बिज़नस कर सकते हैं। यहां दिलचस्प बात ये है, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप किस विषय पर लिखते हैं या किसके बारे में वीडियो बनाते हैं। यहां तक कि बहुत से बड़े कलाकार भी हैं, जो अपनी पहुंच को बढ़ाने के लिए इसे एक अच्छा तारीका मानते है,जिनमें स्टैंड अप हास्य कलाकार भी शामिल हैं। उद्देश्य यही होता है कि दिलचस्प कंटेट के माध्यम से ब्लॉग के दर्शकों या ब्लॉग के पाठकों की संख्या को बढ़ाना है। कुछ व्लॉग प्लेटफार्मों के मामले में दर्शकों की संख्या के आधार पर भुगतान किया जाता है. जबकि अधिकांश ब्लॉग के मामले में, गूगल एडसेंस के माध्यम से विज्ञापन मिलते हैं।

6. कुकरी क्लासेस

यदि आप एक कुशल प्रोफेसनल कुक हैं, लेकिन कोई रेस्तरां या फूड ट्रक बिज़नेस  शुरू नहीं करना चाहते हैं, तो एक विकल्प है – कुकरी क्लास. यह स्मॉल बिज़नेस भारत में शहरी परिवारों के बीच ज़ोर पकड़ रही है। ये क्लासेस व्यक्तिगत रूप से और ऑनलाइन दोनों रूप में दी जा सकते हैं या एक ब्लॉग भी बनाया जा सकता है। जिसमें दूसरों को आप खाना बनाना सिखाते हैं।

7. डेकेयर सेवाएं

भारत में वर्किंग महिलाओं के लिए ऑफिस में बच्चे ले जाने की सुविधा अभी तक नहीं दी गई है और इसलिए महिलाओं को शादी के बाद नौकरी करने में मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। इसलिए डे-केयर सर्विस की मांग बढ़ती जा रही है। इसमें आपको ऐसे कर्मचारियों की ज़रूरत होगी जो बच्चों के साथ आसानी से घुल मिल जाएं और आपको ऐसा वातावरण बनाना होगा जो बच्चों के लिए अनुकूल व सुरक्षित हो ताकि माता-पिता बिना किसी चिंता के अपने बच्चों को दिनभर के लिए वहां छोड़के जा सकें।

8.डांस सेंटर

यदि आप एक अच्छे डांसर या कोरियोग्राफर हैं, तो आप आसानी से किराए पर जगह लेकर एक डांस सेंटर  शुरू कर सकते हैं। आप जो निवेश करेंगें वो केवल आपके डांस सेंटर के प्रचार व प्रसार के लिए होगा। यदि आप अच्छा डांस नहीं करते हैं, तब भी आप डांस टीचर्स को काम पर रख कर डांस ऐकेडमी चला सकते हैं।

तो ये वो आइडिया थे जिन्हें आप कुछ नया शुरू कर सकते थे,  यदि आपको और भी कुछ नये व्यवसायों के बारे में जानना है तो आप हमे ईमेल – sarkarihelpline@gmail.com पर कर सकते हैं. 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *