मानव परीक्षणों के लिए तैयार है भारत का कोविड 19 के टीके: भारत से जल्द खत्म हो सकता है कोरोना वायरस
corona Updates Public Interest Updates

मानव परीक्षणों के लिए तैयार है भारत का कोविड 19 के टीके: भारत से जल्द खत्म हो सकता है कोरोना वायरस

भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड और Zydus Cadila को  स्वदेशी रूप से विकसित किये गए वैक्सीन  को इंसानो पर टेस्ट करने के लिए  ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) से मंजूरी मिल गई है,  

भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिटेड और Zydus Cadila  द्वारा  विकसित किए गए  टीको का काम Sars-Cov-2, विषाणु  को खत्म करना है जो कोरोनोवायरस बीमारी का कारण बनता है,

वैश्विक स्तर पर 100 से अधिक से मेडिसिन कंपनी  द्वारा  कोरोना वायरस कि  दवा  तैयार कर के  वर्तमान में मनुष्यों में परीक्षण किए जा रहे हैं, और कुछ ने प्रारंभिक चरण के परीक्षणों में सफलता  की संभावित  को भी देखा है। हालाँकि, अभी तक किसी भी वैक्सीन को व्यावसायिक उपयोग के लिए अनुमति  नहीं दी गई है ।

भारत में कोरोनावायरस के मामलों की संख्या 625,000 से अधिक है और कोरोनावायरस से देश में मरने वालों की संख्या 18,000 से ऊपर पहुंच चूकि  है।

  • भारत बायोटेक ने सोमवार को भारत के पहले कोविद -19 वैक्सीन, कोवाक्सिन को सफलतापूर्वक विकसित करने का दावा किया था, और कहा कि इसे ड्रग कंट्रोलर से मानव नैदानिक ​​परीक्षण शुरू करने की अनुमति मिल चुकि  है
  • भारत बायोटेक के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक, डॉ. कृष्णा एला का कहना है कि  , ‘हम कोरोना के ख़िलाफ़  भारत के पहले घरेलू स्तर पर विकसित वैक्सीन COVAXIN का ऐलान करते हुए गौरवान्वित  महसूस हो रहा है |  COVAXIN वैक्सीन के विकास में आईसीएमआर और एनआईवी की सहभागिता अहम रही है। सीडीएससीओ के सक्रिय समर्थन और मार्गदर्शन से इस परियोजना को मजूरी मिल पाना  संवभ  हुआ है ।

शुक्रवार को, इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने कहा कि वह 15 अगस्त को दुनिया का पहला कोविद -19 वैक्सीन लॉन्च करने का प्रयास कर रहा है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *